24 साल बाद उत्तर प्रदेश का कोई डॉक्टर इस पद पर होगा आसीन IMA

आईएमए IMA का 97वां राष्ट्रीय सम्मेलन

लखनऊ , इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) का 97वां राष्ट्रीय सम्मेलन के अवसर पर यहां नेटकॉन का आयोजन किया जा रहा है। सोमवार से तीन दिवसीय कार्यक्रम शुरू होगा जिसमें पूरे देश के 3000 विशेषज्ञ चिकित्सकों का समागम संगम नगरी प्रयागराज में होगा।

आईएमए अध्यक्ष निर्वाचित डॉ. शरद अग्रवाल जो उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद से संबंधित हैं और लंबे समय तक आईएमए में सेवा कर चुके हैं। साथ ही वह यूपी आईएमए में पद धारक रहे हैं एवं भारतीय अस्पताल बोर्ड के अध्यक्ष भी रहे थे, आईएमए अध्यक्ष के रूप में शपथ लेंगे। नेटकॉन 24 साल के बाद यह पहली बार है जब उत्तर प्रदेश का कोई डॉक्टर इस पद पर आसीन होगा।

यदुकुल पुनर्जागरण मिशन की प्रेस कांफ्रेंस में, कल होगी महत्वपूर्ण घोषणा

 

सोमवार को आईएमए केंद्रीय कार्यसमिति की बैठक एएमएसीसी में आयोजित की जाएगी। जिसमें लगभग 300 सदस्यों को चिकित्सा क्षेत्र में सामाजिक सेवा में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए सम्मानित किया जाएगा। वहीं केवल नौ विशेष चिकित्सक प्रसिद्ध व्यक्तित्व पुरस्कार से सम्मानित होंगे। डॉ. अशोक अग्रवाल वरिष्ठ शल्य चिकित्सक का भी नाम है। इसके अलावा डॉ. आर.के. गुप्ता वरिष्ठ चिकित्सक को प्रसिद्ध डॉ. केतन देसाई पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। आगामी 27 और 28 दिसंबर को आईएमए सदस्यों द्वारा लगभग 40 व्याख्यान और 80 पेपर और पोस्टर प्रस्तुत किए जाएंगे। वैज्ञानिक सत्र में मधुमेह और उच्च रक्तचाप प्रबंधन, उपशामक देखभाल, कोविड-19 और नैतिक दुविधाओं, पोस्ट-कोविड फेफड़ों की बीमारियों और जलवायु परिवर्तन सहित स्वास्थ्य संबंधी विभिन्न विषयों पर चर्चा होंगी। वहीं नेटकॉन के स्थापना समारोह का उद्घाटन मुख्य अतिथि द्वारा 28 दिसंबर को एएमएसीसी ऑडिटोरियम में किया जाएगा।

आईएमए प्रेसिडेंट इलेक्ट डॉ. शरद अग्रवाल इसके सह-अध्यक्ष हैं। आईएमए यूपी राज्य के अध्यक्ष डॉ. प्रदीप सिंह और पूर्व अध्यक्ष आईएमए यूपी स्टेट डॉ. ए.पी. सिंह, नेटकॉन के आयोजन सचिव हैं। आईएमए के पूर्व उपाध्यक्ष डॉ. अशोक अग्रवाल व सचिव आईएमए यूपी राज्य डॉ. राजीव गोयल। नेटकॉन को यूपी मेडिकल काउंसिल द्वारा 6 सीएमई क्रेडिट पॉइंट आवंटित किए गए हैं, जो किसी भी सम्मेलन के लिए आवंटित अधिकतम पॉइंट है और सम्मेलन की गुणवत्ता को दर्शाता है।

अध्यक्ष डॉ. सुबोध जैन ने बताया कि सोमवार को राष्ट्रीय परिषद की 83वीं बैठक एएमएसीसी में ग्रामीण स्वास्थ्य सेवा और पेशेवर गरिमा में प्राथमिकता के आह्वान के साथ शुरू होगी। आईएमए के 130 साल के इतिहास में पहली बार आईएमए की नेशनल कांफ्रेंस और सेंट्रल वर्किंग कमेटी की बैठक उत्तर प्रदेश के किसी शहर में एक साथ हो रही है और आईएमए की प्रयागराज शाखा को यह मौका मिला है। जिसमें देश भर से 3000 से ज्यादा चिकित्सा विशेषज्ञ हिस्सा लेंगे। आईएमए नेटकॉन के आयोजन अध्यक्ष हैं।

डॉ. आशुतोष गुप्ता ने कहा कि यह गर्व की बात है कि आईएमए अध्यक्ष निर्वाचित डॉ. शरद अग्रवाल जो उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद से संबंधित हैं और लंबे समय तक आईएमए में सेवा कर चुके हैं। साथ ही वह यूपी आईएमए में पद धारक रहे हैं एवं भारतीय अस्पताल बोर्ड के अध्यक्ष भी रहे थे, आईएमए अध्यक्ष के रूप में शपथ लेंगे। नेटकॉन 24 साल के बाद यह पहली बार है जब उत्तर प्रदेश का कोई डॉक्टर इस पद पर आसीन होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button