दलित को उपमुख्यमंत्री नहीं बनाना कांग्रेस की जातिवादी मानसिकता का परिचायक: मायावती

दलित को उपमुख्यमंत्री नहीं बनाना कांग्रेस की जातिवादी मानसिकता का परिचायक: मायावती

लखनऊ, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) मायावती ने शनिवार को कहा कि कर्नाटक में दलित और मुस्लिम को मुख्यमंत्री अथवा उपमुख्यमंत्री पद के काबिल नहीं समझना कांग्रेस की जातिवादी मानसिकता का द्योतक है।

मायावती ने ट्वीट किया “ कर्नाटक विधानसभा चुनाव उपरान्त मंत्रिमण्डल में श्री डी के शिवकुमार को उपमुख्यमंत्री बनाकर कांग्रेस ने अपनी अन्दरुनी कलह को थोड़ा दबाने का प्रयास किया है, किन्तु दलित व मुस्लिम समाज की उपेक्षा क्यों, जबकि इन दोनों वर्गों ने एकजुट होकर कांग्रेस को वोट देकर विजयी बनाया।”

उन्होने कहा “ कांग्रेस द्वारा कर्नाटक में सीएम पद के लिए दलित समाज की उठी दावेदारी को पूरी तरह से अन्देखी करने के बाद अब किसी भी दलित व मुस्लिम को डिप्टी सीएम नहीं बनाना यह इनकी जातिवादी मानसिकता को दर्शाता है अर्थात इनको यह वर्ग केवल अपने खराब दिनों में ही याद आते हैं। ये लोग सतर्क रहें।”

गौरतलब है कि कर्नाटक में आज श्री सिद्धारमैया मुख्यमंत्री और श्री डीके शिवकुमार ने उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली है। शपथ ग्रहण समारोह में बसपा सुप्रीमो को न्योता नहीं भेजा गया था। 2018 के चुनाव में कर्नाटक में हुये शपथ ग्रहण समारोह में कांग्रेस ने सुश्री मायावती समेत तमाम विपक्षी दलों को न्योता भेजा था और 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले विपक्षी एकता का इजहार किया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button