चुनावों में हार के बाद बहक गए हैं अखिलेश यादव: गिरीश यादव

चुनावों में हार के बाद बहक गए हैं अखिलेश यादव: गिरीश यादव

लखनऊ, उत्तर प्रदेश के राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार गिरीश चंद्र यादव ने दुनिया में सबसे ज्यादा सामाजिक भेदभाव भारत में होने संबंधी समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव के बयान को हास्यास्पद बताते हुए कहा कि विधानसभा चुनावों में मिली करारी हार के बाद सपा मुखिया बहक गये हैं।

गौरतलब है कि अखिलेश ने एक बयान में कहा कि भारत जैसा सामाजिक भेदभाव दुनिया में कहीं नहीं है। इस पर प्रदेश के खेल एवं युवा कल्याण मामलों के मंत्री गिरीश यादव ने कहा कि इस तरह के हास्यास्पद बयानों के कारण अखिलेश की हाल कांग्रेस नेता राहुल गांधी जैसा हो गया है।

उन्होंने कहा, “सपा मुखिया के बयानों से लगता है कि वह उत्तर प्रदेश में बीते 5 वर्षों में हुए बदलाव को जानबूझकर महसूस नहीं कर पा रहे हैं। उनकी मनोस्थिति राहुल गांधी की तरह हो गई है। जिस तरह कांग्रेस नेता राहुल गांधी को उनके बयानों की वजह से देश की जनता गंभीरता से नहीं लेती है, उसी तरह अखिलेश यादव भी अपने हास्यास्पद बयानों की वजह से अपनी साख खो चुके हैं।”

अखिलेश ने मंगलवार को सपा कार्यालय में एक किताब के विमोचन समारोह में कहा कि भारत जैसा सामाजिक भेदभाव दुनिया में कहीं नहीं है। यहां धर्म बदल जाता है लेकिन जाति नहीं बदलती। उन्होंने कहा कि पिछड़ों, दलितों और वंचितों को उनका हक एवं सम्मान दिलाने की यह लड़ाई लंबी तथा कठिन जरूर है, पर उम्मीद है कि यह लड़ाई जीती जायेगी।

इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए गिरीश ने कहा, “अखिलेश की समस्या ये है कि वह अब तक खुद को मुख्यमंत्री ही समझते हैं। उन्हें समझना चाहिए कि उत्तर प्रदेश योगी आदित्यनाथ के सुरक्षित हाथों में है।” यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश के मतदाताओं ने लगातार दूसरी बार अखिलेश की विचारधारा, उनके बयानों और उनकी छवि को नापसंद कर दिया है। उन्हें जनादेश का सम्मान करते हुए झूठ बोलने की आदत पर विराम लगाना चाहिए, क्योंकि उनके झूठ से अब जनता पर कोई फर्क नहीं पड़ने वाला और न ही उनका कुछ भला होने वाला है।”

उन्होंने कहा कि योगी सरकार लगातार दलितों और वंचितों के हित के लिए काम कर रही है। प्रदेश में जितनी भी योजनाएं चलाई जा रही हैं, उनके केंद्र बिंदु में दलित, पिछड़े और वंचित समाज ही है। उन्हें न सिर्फ पूरे सम्मान के साथ इसका फायदा मिला है, बल्कि उनके जीवन स्तर में पहले की तुलना में काफी बदलाव आया है।

यादव ने कहा कि वंचित वर्गों को शिक्षा से लेकर नौकरियों तक में प्रमुखता दी जा रही है। प्रदेश सरकार के कार्यों और योजनाओं में सामाजिक न्याय की प्रवृत्ति प्रबल रही है। यही वजह है कि मुख्यमंत्री योगी को प्रत्येक धर्म, जाति, तबके का वोट मिला है। उन्होंने कहा कि पूरा प्रदेश जानता है कि अखिलेश यादव सिर्फ दलितों और वंचितों की बात करते हैं, लेकिन अपने कार्यकाल में उन्होंने न उनके लिए कुछ किया और न ही उनकी कभी ऐसी नीयत रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button